Friday, 14 October 2016

पड़ोस वाली आंटी का अकेला पैन दूर किया

desi parosan
हेलो दोसतो मेरा नाम रवी हे. मे ऊमर 23 साल हे.और मे मुबई का रहने वाला हु.अाज मे अाप को मेरी सेकसी कहानी बताने जा रहा हु.केसे मे ने अपनी पडोस वाली अाटी की पयास बुजाई.पडोस वाली अानटी का नाम पुजा हे और ऊनकी ऊम 40 साल हे.रग दुघ जेसा गोरा हे.ऊनका फीगर 32-34-36 हे.अानटी साडी पेनती हे ईस लीऐ अानटी की सेकसी कमर और बोल के दशन सबको मीलते थे.ऊनके परीवार मे ऊनके पति और ऐक बेटा हे. पर बेटा होसटेल मे रेहता था और अकल को अकसर काम से बहार जाना पडता था.ईस आनटी को कुस भी काम होता तो वो हमारे घर ही आती थी.पहेले मे होसटेल मे रेहता था ईस लीऐ मेरी ऊनसे जादा बात नही होती थी.पर पीसले साल मेरी कोलेज कतम हो गई ईसलीऐ मे घर पर अा गया.उस वकत कुस भी अानटी को कुस भी काम होता तो वो मुजे ही बुलाती.ईस तरह मेरा अानटी के घर मेरा अाना जाना सालु हुवा.ईस तरह मे अानटी के घर जा कर ऊनके बदन के भी दशन कर लेता था और कभी कीसी बहाने ऊनके बदन को हाथ भी लगा लेता था.ईस तरह अानटी और मेरी अची दोसती हो गई.ऊस वकत मेरे ममी पापा को कीसी काम से गाव जाना पडा ईसलीऐ अानटी ने मेरे ममी पापा ना अाये तब तक उनके याहा खाना खानेको कहा.उस वकत अकल भी कीसी काम से बहार गये थे और दो हफते बाद अाने वाले थे.अगले दीन अानटी का लेपटोप हेग हो रहा था ईसलीऐ अाटी ने मुजे बुलाया.मेने लेपटोप देख कर कहा की ईसे थोडा टाईम लगेगा ईस लीऐ मे ईसे घर लेजा कर थीक करता हु.फीर मेने थीक कर के चेक करने लगा की लेपटोप मे कया कया हे.पहले मुजे उसमे कुस नही मीला पर जब मेने हाईड फोलडर खोला तब मुजे सेकसी वीडीयो दीखे.

मे समज गया की अकल और अाटी ये वीडीयो देख कर मजा करते हे.फीर मेने उस लेपटोप मे ऐक सेकसी मुवी की सीडी डाल कर बद करदीया.फीर रात को मे खाना खाने के लीऐ अाटी के घर गया और उनको कहा की लेपटोप मे सीडी की वजसे हेग होगया हे.अाटी ने खाना खाकर देखने को कहा.खाने के बाद अाटी और मे बेड पर लेपटोप चालु कीया.बाद फोलडर खोला तो उसमे वीडीयो दीखे अाटी ने सेकसी वीडीयो देख कर हेरान हो गई और मेरे सामने देखने लगी.और बोली ये सीडी कीस की हे मेने कहा सायद अकल की होगी तो वो बोली तुमारे अकल को अेसी मुवी पसद नही.सच बोलो तो मेने कहा अाटी मेने अापके लेपटोप मे अेसी मुवी देखी ईस लीऐ अापको ये सीडी गीफट करने का सोचा.अाटी हस कर बोली अेसी गीफट कोय देता हे कया.मेने कहा अापको ये गीफट अची नही लगी कया.वीडीयो के साम ने देख कर कहा अची हे.फीर मेने अपना हाथ अाटी के कमर मे डाल दीया.सेकसी वीडीयो देख कर अाटी गरम हो गईथी ईस लीऐ अाटी ने मुजे कुस नही कहा.फीर मेने अाटी को अपनी और खीसते हुऐ कहा अाटी दो साल से अाप के पयार की राह देख रहा हु.अाटी ने मेरी और सेकसी नजर से देख कर कहा मे भी ऐक साल से पयार के लीऐ तडप रही हु.तु मारे अकल के पास पयार देने का टाईम नही हे.मेने अाटी को कहा अापको पयार देने के लीऐ मे हुना और फीर मेने उनके होठो पर अपने होठ रख कर कीस करने लगा.सेकसी वीडीयो देखने के कारन अाटी पहेले से गरम हो चुकी थी और काफी समय के बाद कोय पयार करने वाला मीला ईस लीऐ वो अपने अाप को रोक नही पाई.हम ऐक दुसरे को पागलो की तरहा कीस करने लगे.फीर मेने घीरे से अपना हाथ अाटी के बोल पर रख कर दबाने लगा.फीर मेने गले पर कीस करना चालु कीया और जोर जोर से बोल दबाने लगा.तब आटी का पुरा कटोल सला गया और बोली मेरे राजा आज ईस पयार की पयासी अाटी को बहुत पयार करो ये सुन कर मे जोस मे आया और मेने जोर जोर से बोल दबाना चालु करदीया.अाटी चीला ने लगी. आआआआआआऊऊऊऊऊऊईईईईईईईई यायायाययायाययाययाययायाया ……
अब मेने अाटी की साडी और बलावुज नी काल कर दोनो बोल को खुला करदीया.आटी के बोल देख कर मेरा लड बहार आने के लीऐ उतावला होने लगा.फीर मे दोनो बोल पर तुट पडा.आटी बोली घीरे बेटा बहुत ददं हो रहा हे.अब मे बोल को मुमे लेकर चुच ने लगा.इसे आटी बहुत गरम हो गई.फीर आटी ने मेरे पुरे कपडे उतार कर मुजे नगा कर दीया.फीर आटी मेरा 6 ईच का लोडा देख कर कहा ऐक साल के बाद लोडे के दशन हुऐ.फीर आटी ने कहा अब ईस लड को अपने मुमे लेलु..अकल ने कभी आटी को मुमे लड नही दीया था.ईस लीऐ आटी को लड को मुमे लेना जम नही रहा था पर थोडी देर बाद वो लोलीपोप के जेसे मेरे लड को चाटने लगी.मुजे तब बहुमजा आ रहा था. फीर मेने आटी की चडी नीकाल कर चुत दशन कये.आटी की चुत भी अाटी जेसी ही गोरी थी.थोडे बाल भी थे चुत पे तो मेने कहा अाटी आप बाल भी साफ नही करती कया तो आटी ने कहा कोई पयार करने वाला नही था ईस लीऐ बाल नही काटती थी.मेने चुत पर हाथ फेरा कर कहा अब मे आगया हुना पयार करने के लीऐ.फीर आटी की चुत मे

उगली घुमाने लगा.आटी चीलाने लगी…आआआआआआआईईईईईईईईईीीययययायाायया
फीर आटी ने कहा तुमारे अकल ने कभी भी मेरी चुत नही चाटी.मे ने कहा कोय बात नही आज मे आप की ये ईचा पुरी करुगा. फीर चुत के चेद को खोल कर अपनी जीभ से आटी की चुत चाटने लगा.अाटी जोर जोर से चीलाने लगी.फीर थोडी देर बाद हम 69
पोजीसन मे आकर आटी लड चुचने लगी और मे चुत चाटने लगा.थोडी देर बाद दोनो ने पानी छोड दीया.दोनो पुरा पानी पी गएे.आटी ने पहेली बार लड का पानी पीया था ईस लीऐ वो बडी खुस हुई.फीर आटी ने कहा जान अब बुजा दे मेरी चुत की पयास.फीर मेने आटी के पेर खोल कर अपना लड कर चुत मे डाल ने लगा. अाटी की चुत मे ने घीर से लड डाला चालु कीया.आटी की चुत मे ऐक साल से लड नही गया था ईस लीये उन हे दद हो रहा था.घीरे घीरे मेने अपनी सपीड बढाई.वो बोली जान घीरे घीरे करो बहुत दद हो.मेने फीर थोडे पयार से चोदने लगा.ईस दोरान वो दो बार जड चुकी थी.करीब दस मिनीट के बाद मेरा पानी निकल ने लगा मेने अपना सारा पानी चुत मे ही डाल दीया.ये बात मेने अाटी को बोली तो उनो ने कहा कोय बात नही.फीर मे अीटी को कीस करने लगा.थोडी दे बाद मेरा लड फीर चुदाई के लीऐ खडा हो गया.मेने आटी की

गाड गाड पर हाथ फेर ने लगा.मेने कहा अब मे आपकी गाड मे डालु गा.तो आटी ने कहा अभी तक अकल ने कभी गाड मे नही डाला.मेने कहा कोय बात नही आज मे आप की गाड की पयास बूजाउगा.लड को थोडा ही गाड मे डाला तो आटी चीला ने लगी की बहुत दद हो रहा हे.मेने कहा आटी आप तेल से मेरे लड की मालीस करदो फीर आसानी से सला जायेगा.आटी बडे पयार से मालीस करने लगी. फीर मेने अाटी को उलटा लेटा कर गाड मे डाल ने लगा और जोर जोर से चोदने लगा.आटी फीर चीला ने लगी पर ईस बार मे नही रुका.थोडी देर बाद अाटी को भी मजा आने लगा और वो साथ देने लगी.थोडी देर बार मे जड गया और आटी के उपर ही सो गया. आटी भी थक गई थी.थोडी देर बाद हम दो नो उथे मेने देखा आटी की गाड मेसे खुन नीकल रहा था फीर हम दोनो साफ होने के लीऐ बाथरुम गये.और साफ होकर बेड पर नगे ऐक बाहो मे सो गये.सुब उठा तो देखा अाटी नहा ने सली गई थी.मेभी बाथ रुमे जाके उनके साथ नहा ने लगा.और ऐक राउड फीर लेलीया.फीर मेरे ममी पापा नही आये तब तक ऐसे ही सुबह और रात को आटी के साथ मजा कीया.जभी मोका मीलता तब मे आटी के साथ मजे करता हु.केसी लगी मेरी और आटी की कहा नी दोसतो बताना मत भुलना.

कीसी भी आटी या भाभी को लड केा मजा लेना हो तो मुजे मेल करना मत भुलना
मेरा मेल आडी- ravisureja353535@gmail.com

hindi adult story in original font writing, desi sex story, Indian sex story, desi antarvasna sexy kahani, gandi kahaniyan, yum stories best romantic

Rate This Story