Wednesday, 26 October 2016

भाई की शादी में अंजलि को चोदा

shadi sex
हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राहुल है और में अब जो स्टोरी में आपके लिए लेकर आया हूँ, वो बिल्कुल सच्ची है। मेरे दूर के एक अंकल के लड़के की शादी थी और में उस वक़्त अजमेर में था, में अजमेर से निकला ही था कि मेरी कज़िन बहन (मेरे अंकल की बेटी) का फोन आया कि उसकी एक दोस्त है अंजली शर्मा जो किशनगढ़ में रहती है तो उसे लेते हुए आना है। अब में आपको अंजली के बारे में बता दूँ, वो दिखने में बहुत सेक्सी है और उसका फिगर साईज 34-30-34 है, उसको देखकर तो किसी का भी लंड खड़ा हो जायेगा। उसकी स्माईल तो इतनी प्यारी है कि पूछो ही मत, जैसे ही मैंने सुना कि अंजली को मुझे पिक करना है, मेरे तो जैसे मज़े ही हो गये। में अंजली से एक दो बार ही मिला था और हमारी सिर्फ़ हाय हैल्लो ही हुई थी।

फिर मैंने अंजली को उसके घर से पिक किया और हम शादी के लिए रवाना हो गये, शादी फागी ज़िले  में थी तो हमें 4 घंटे लगने वाले थे। फिर मैंने और उसने बातें करना स्टार्ट कर दी थी और पता ही नहीं  चला कि कब हमारी ऐसी पट गयी, जैसे हम दोनों बेस्ट दोस्त हो। अब हमें पता ही नहीं चला कि कब फागी आ गया? हम सगाई वाले दिन ही पहुंचे थे और शादी अगले दिन थी, उसने सगाई वाले दिन टाईट टी-शर्ट और जीन्स पहन रखी थी और उसकी गांड देखकर तो ऐसा लग रहा था कि अभी ही उसकी गांड मार लूँ। फिर हमने सगाई में बहुत डांस किया, मेरा मतलब साथ में डांस किया। फिर मेरे मामा की लड़की को शक हुआ तो उसने हम दोनों को एक साथ बैठाकर पूछा कि क्या हम दोनों एक दूसरे के बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड बनेगें? तो मैंने तो फटाफट हाँ कर दिया, लेकिन अंजली कुछ नहीं बोली वो सिर्फ़ शरमा रही थी।

अब रात बहुत हो चुकी तो हम सब सोने लगे, घर में इतने मेहमान थे कि मुझे सोने की कही जगह ही नहीं मिल रही थी तो में छत वाले रूम में चला गया। अब में वहाँ गया तो पता चला कि मेरी कज़िन और अंजली वहाँ बातें कर रही थी, अब वो दोनों मुझे देखकर चुप हो गयी और पूछने लगी कि क्या हुआ? अंजली के बिना नीचे मन नहीं लगा क्या? तो मैंने कहा कि नीचे जगह नहीं है, इसलिए में ऊपर सोने आ गया। तभी मेरी बहन ने कहा कि आ जा यहाँ बहुत जगह है। फिर में अंजली और मेरी बहन एक साथ लेट गया, अब अंजली मेरी बगल में लेटी थी, क्या बताऊँ दोस्तों उसकी बॉडी से क्या खुशबू आ रही थी? अब मेरी तो नींद ही उड़ गयी थी। अब वो मुझसे चिपककर सो रही थी। फिर में भी मज़े लेने लगा, उसने जब नाईटी पहन रखी थी। फिर मैंने उसकी नाईटी के बटन खोल दिए और धीरे-धीरे उसके बूब्स को मसलने लगा, तभी अंजली थोड़ा सा हिली तो में रुक गया।

फिर अंजली ने खुद ही मेरा हाथ अपने बूब्स पर रख लिया और अब में उसके बूब्स को मसल रहा था, क्या मखमल जैसे बूब्स थे? फिर मैंने उसकी नाईटी ऊपर की और पेंटी में हाथ डाल दिया। फिर वो मेरे पजामे के ऊपर से ही मेरा लंड मसलने लगी। अब मेरा लंड एकदम टाईट हो गया था, अब मैंने एक चादर ली और हम दोनों ने चादर ओढ़ ली। फिर मैंने उससे कहा कि मुझे चूत में लंड डालना है तो उसने मना कर दिया और बोली कि मेरी बहन भी यहीं सो रही है। फिर मैंने कहा कि अब क्या करें? तो उसने मेरा पजामा थोड़ा नीचे किया और फिर मेरी अंडवियर नीचे करके अपने हाथ से मेरा लंड हिलाने लगी। अब में भी उसकी चूत में मेरी उंगली अन्दर बाहर कर रहा था और अब हम दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे, क्या किस था? यार मज़ा ही आ गया। अब हम किस भी कर रहे थे और में उसकी चूत में उंगली कर रहा था और वो मेरा लंड अपने हाथ से हिला रही थी, ऐसा चलता रहा और हम दोनों एक साथ ही झड़ गये। फिर हम लिपट कर सो गये, जैसे कोई पति पत्नी सोते है।

फिर सुबह मेरी बहन ने मुझे उठाया और कहा कि जल्दी से उठो कोई भी ऊपर आ जायेगा, ऐसे चिपके मत रहो। फिर हम दोनों उठे और तैयार होने चले गये, अब में पूरे दिन अंजली का ध्यान रख रहा था और वो भी मेरा ध्यान रख रही थी, अब ऐसा लग रहा था कि हम पति पत्नी है। फिर शाम को हम सब बारात के लिए तैयार होने लगे, उसने पिंक कलर की साड़ी पहनी थी, वो क्या क़यामत लग रही थी? और मैंने सफ़ेद शर्ट और ब्लेक ट्राउज़र पहनी थी। फिर हम दोनों ने एक साथ फ़ोटो खींचवाई तो मेरे जितने भी कज़िन थे बोलने लगे कि क्या जोड़ी है? अब सबको पता चल गया था कि मेरे और अंजली  के बीच कुछ चल रहा है। फिर हम सब बारात में गये और डांस करने लगे। मैंने और अंजली ने भी साथ में डांस किया और अब मेरे सारे कज़िन हमारे मज़े लेने लगे थे। फिर हम शादी वाली जगह पर पहुंचे और शादी की सब रस्म हो गयी और फिर हम सबने दूल्हा दुल्हन के साथ खाना खाया और मंडप में बैठ गये।

shadi me chudai, bhai ki shadi me sex, desi shadi me chudai kardi, shadi me larki phasany ka tarika, larki ko attract karne ka tarika, desi sex kahaniyan

Rate This Story