Tuesday, 19 July 2016

मेरी बीवी सुप्रिया का ग्रुप सेक्स

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम जगदीश है और आज में आप सभी को अपनी एक सच्ची घटना सुनाने जा रहा हूँ और यह घटना मेरी बीवी की चुदाई पर आधारित है जिसमे मेरी बीवी ने कॉलेज के लड़को से अपनी चुदाई करवाई और अब सीधा अपनी कहानी की तरफ चलता हूँ. दोस्तों मेरी बीवी का नाम सुप्रिया है और उससे मेरी शादी 1 साल 6 महीने पहले हुई और हमारी शादी हमारे घरवालों की मर्जी से हुई, लेकिन सुहागरात की रात को ही मेरी बीवी मेरे लंड को देखकर उदास हो गई, क्योंकि मेरे लंड का साईज़ बहुत छोटा था और मुझे सेक्स के बारे में भी ज्यादा पता नहीं था, क्योंकि मेरी शादी से पहले मेरी कोई गर्लफ्रेंड भी नहीं थी जिसके साथ सेक्स करके में कुछ सीख सकता और इस कारण से दोस्तों में अपनी बीवी को संतुष्ट नहीं कर सका और उस कारण से वो मुझसे बहुत नाराज रहती थी और मुझे बहुत बुरा भला कहती थी.

अब में अपनी बीवी का परिचय भी आप सभी से करा दूँ, मेरी बीवी का रंग गोरा है और वो पतली दुबली है, लेकिन उसके बूब्स उसके जिस्म में सबसे सुंदर अंग है और वो पतली होने के बाद भी उसके बूब्स बहुत बड़े बड़े है, जिन्हें देखकर किसी का भी लंड पानी छोड़ दे, उसके फिगर का साईज 36-26-35 है और उसकी लम्बाई 5.4 है और उसकी उम्र 28 साल है वो दिखने में एकदम सेक्सी है.

दोस्तों यह बात उन दिनों की है जब हमारे घर के सभी लोग बाहर घूमने गये हुए थे और घर पर में और मेरी बीवी अकेले थे, दोस्तों ऐसा दिन सभी कपल्स के लिए सोना होता है, लेकिन हमारे लिए नहीं क्योंकि मेरी बीवी मुझसे सेक्स नहीं करती थी और अब मुझे भी इसमे ज्यादा कोई रूचि नहीं थी, लेकिन में यह बात बहुत अच्छी तरह से जानता था कि मेरी बीवी की नज़र हमेशा आते जाते लड़कों पर रहती थी और वो उन पर चान्स मारने की फिराक में थी, क्योंकि मुझे पता था कि उसकी कामुक चूत को किसी के लंड का हमेशा इंतजार रहता था जिससे वो अपनी प्यासी चूत की प्यास बुझा सके. दोस्तों हमारे घर के पास में एक लड़कों का कॉलेज था और मेरी बीवी हमेशा उस कॉलेज के लड़कों को देखती रहती थी, लेकिन उस कॉलेज में बहुत बेकार आवारा किस्म के लड़के पड़ते थे और वो कभी कभी मेरी बीवी की तरफ गंदे गंदे इशारे भी करते थे, लेकिन सुप्रिया को यह सब अच्छा लगता था और वो उन्हे देखकर बहुत हंसती थी.

फिर कुछ दिनों के बाद गर्मियों की छुट्टियाँ लग गई थी और फिर कॉलेज भी बंद हो गया था, लेकिन उस कॉलेज के दो लड़के जिनकी उम्र करीब 21 साल के आस पास थी और वो हर दिन दोपहर में हमारे घर के पास आकर बैठते थे और फिर सिगरते पीते थे. फिर एक बार जब मैंने यह सब उनसे यहाँ पर करने के लिए मना किया तो उन दोनों ने मुझे डराया धमकाया जाने को कहा और में अपने घर पर आ गया.

फिर मुझसे मेरी बीवी ने भी कहा कि क्या हुआ अगर वो यहाँ पर बैठा करते है तो? और मेरी बीवी उनके लिए मुझसे लड़ने झगड़ने लगी और अब मेरी बीवी जब भी उन्हे देखा करती थी तो दौड़कर बालकनी में चली जाती थी. एक दिन वो दोनों लड़के मेरी बीवी को देखकर अपना लंड पेंट से बाहर निकालकर मूतने लगे और यह सब देखकर मेरी बीवी की आखें फटी की फटी रह गयी, क्योंकि शायद उसने इतना बड़ा लंड पहले कभी नहीं देखा था, लेकिन वो दोनों लड़के दिखने में बहुत गंदे थे, उनका रंग बहुत काला था और पतले दुबले थे, लेकिन उनके शरीर में ताक़त बहुत थी.

फिर उस दिन मेरी बीवी ने उन्हे इशारा करके अपना फोन नंबर उन्हे दे दिया और उस दिन से वो हमेशा उन्ही से बात करती रही और वो मेरी बीवी से गंदी गंदी बातें करते थे. अब मेरी बीवी ने उनसे सेक्स चेट करना शुरू कर दिया था और एक दिन जब यह बात मुझे पता चली तो मेरी बीवी ने मुझसे कहा कि अगर में इसके खिलाफ जाऊंगा तो वो उन दोनों लड़को से कहकर मेरा मज़ाक उड़वाएगी. यह बात सुनकर में बहुत डर गया और मैंने चुप रहने में ही अपनी भलाई समझी, क्योंकि मुझे डर था कि अगर मैंने उससे कुछ भी कहा तो वो मेरा बाहर वालों से मजाक बनवाती जो बातें अभी हमारे घर में थी वो अब बाहर निकल सकती थी, इसलिए में बिल्कुल चुप रहा.

एक दिन उन लड़को ने मेरी बीवी से फोन करके कहा कि उन्हे उसके साथ सेक्स करना है, तभी उनसे यह बात सुनकर मेरी बीवी बहुत खुश हो गई, क्योंकि आखिर में उसे वो सब मिलने वाला था जो वो चाहती थी. मेरी बीवी ने उनसे कहा कि वो इस रविवार को हमारे घर पर आ सकते है. वो दोनों अब मेरी बीवी के साथ हॉट सेक्स करना चाहते थे और फिर इसलिए मेरी बीवी ने ऑनलाइन एक सेक्सी पेंटी, ब्रा माँगवाई, जिसके कारण मेरे बीवी की पूरी गांड पीछे से दिख रही थी और ऊपर एक जालीदार टॉप पहना हुआ था जिसमें से सब कुछ दिख रहा था और अब सुप्रिया यह सब लेकर बहुत खुश थी, लेकिन में बहुत नर्वस था.

अब आख़िर में रविवार का दिन आ ही गया. सुप्रिया उन दोनों का बहुत बेसब्री से इंतज़ार करने लगी. तभी दरवाजे पर घंटी बजी और मैंने दरवाज़ा खोला और देखा कि वो दोनों बाहर खड़े हुए थे. उनमे से एक ने मुझसे कहा कि क्या बे हिजड़े कैसा है? तो मैंने कुछ भी नहीं बोला और उन्हे अंदर आने को कहा तो वो लोग अंदर आकर सुप्रिया को घूर घूरकर देखने लगे, वो उसके बूब्स को देख रहे थे. सुप्रिया ने उनसे हमारे बेडरूम में बैठने को कहा तो वो दोनों बेड पर बैठ गए, में भी एक कुर्सी लेकर वहाँ पर बैठ गया.

सुप्रिया कुछ ठंडा लाने को किचन में चली गयी और थोड़ी देर में उसने उन्हे ठंडा पीने को दिया और फिर वो नहाने चली गयी, तो वो दो लड़के मुझे देखकर हंस रहे थे और मुझे बड़ा अजीब सा लग रहा था. तभी उनमे से एक ने कहा कि आज में तेरी बीवी का सारा दूध पी जाऊंगा और दूसरे ने कहा कि हम दोनों आज उसकी चूत को फाड़ देंगे और अब वो बहुत गरम हो रहे थे.

तभी सुप्रिया वो हॉट से कपड़े पहनकर बाथरूम से बाहर आई तो वो दोनों अपनी बड़ी बड़ी आखों से देखने लगे और बोले कि क्या हॉट रंडी है? तभी सुप्रिया हंस पड़ी और बोली कि हाँ में तुम्हारी रंडी और तुम्हारी बीवी हूँ. उसके मुहं से यह बात सुनकर मुझे रोना आ गया और में वहाँ से उठकर जाने लगा, लेकिन तभी सुप्रिया ने मुझसे कहा कि तुम यहाँ पर बैठकर यह सब देखोगे? और फिर वो बेड पर जाकर उनके बीच में बैठ गई. उन दोनों ने अपना एक हाथ सुप्रिया की जाँघो पर रख दिया और सुप्रिया उन्हे स्मूच करने लगी.

तभी एक सुप्रिया के बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा और सुप्रिया अहहहह आईईईइ आवाज़ निकालने लगी और बोली कि हाँ थोड़ा अच्छे से मसलो इन्हे और फिर उन्होंने सुप्रिया का टॉप पकड़कर फाड़ दिया और उसके बूब्स को चूसने लगे और जानवरों की तरह काटने लगे, लेकिन सुप्रिया को इन सब में बहुत मज़ा आ रहा था. तभी एक ने सुप्रिया की पेंटी के अंदर हाथ डाला और उसकी चूत में उंगली करने लगा और दूसरा उसके बूब्स के साथ खेल रहा था. फिर वो सुप्रिया की चूत चाटने लगे और मानो कि सुप्रिया सातवें आसमान पर हो और वो चिल्लाकर बोलने लगी कि हाँ और ज़ोर से अह्ह्ह्हह उह्ह्हह्ह्ह्ह चूसो, मुझे आज अपनी रंडी बना दो.

यह सब सुनकर में रोने लगा, लेकिन में कर भी कुछ नहीं सकता था. फिर उन दोनों लड़को ने सुप्रिया को पूरी तरह नंगा कर दिया और खुद भी नंगे हो गए. सुप्रिया उनके खड़े लंड को देखकर बिल्कुल पागल जैसी हो गई और फिर बोली कि हाँ आज बुझेगी मेरी प्यास, लेकिन प्लीज अब जल्दी से मुझे चोदकर मेरी चूत को ठंडा कर दो.

फिर उसने दोनों का लंड अपने हाथों में ले लिया और ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी. उनका लंड बहुत गंदा था और बहुत बदबू आ रही थी, लेकिन सुप्रिया को यह सब बहुत अच्छा लग रहा था और वो उसे चूस रही थी और वो लड़के कह रहे थे कि हाँ चूस, रंडी चूस और ज़ोर से चूस. तभी एक ने सुप्रिया को बेड पर लेटा दिया और उसकी चूत में लंड डालने लगा और दूसरा लड़का उसे अपना लंड चुसवा रहा था, तो एक झटके में उस लड़के ने अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया और सुप्रिया ज़ोर से बोली कि आआअहह लेकिन दूसरे ने उसे अपना लंड उसके मुहं से बाहर निकालने का मौका नहीं दिया और वो सुप्रिया की चूत को ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा और सुप्रिया दर्द से चिल्लाने लगी, लेकिन वो लोग फिर भी नहीं रूके और जब एक का काम खत्म हुआ तो दूसरे ने उसको चोदना शुरू किया.

में बहुत डर गया और सोचने लगा कि वो मेरी बीवी की जान ना ले ले, लेकिन मैंने देखा कि अब मेरी बीवी को तो बहुत मज़ा आ रहा था और जब उन दोनों का चूत से मन भर गया तो उन्होंने सुप्रिया को घोड़ी बना दिया और बोले कि आज हम तेरी गांड भी मारेंगे.

तो सुप्रिया ने उनसे विनती करके कहा कि प्लीज यह सब नहीं करना, लेकिन वो नहीं माने और एक ने सुप्रिया का हाथ पकड़ लिया और दूसरे ने मुझसे कहा कि जा थोड़ा सा तेल ले आ. मैंने उसे तेल लाकर दिया और उसने तेल को अपने लंड और सुप्रिया की गांड पर लगा दिया, फिर अपने लंड का सुपड़ा उसकी गांड में डालने लगा और अब लंड आधा ही गांड में घुसा होगा कि सुप्रिया ज़ोर ज़ोर से चीखने चिल्लाने लगी. तब दूसरे ने अपना लंड उसके मुहं में डाल दिया और फिर जो उसकी गांड मार रहा था. एक झटके में उसने अपना पूरा लंड सुप्रिया की गांड में डाल दिया और मैंने सुप्रिया की आखों में आँसू और चेहरे पर हंसी देखी.

फिर वो ज़ोर ज़ोर से सुप्रिया की गांड मारने लगा और जब उसका काम खत्म हो गया तो दूसरे ने भी सुप्रिया की जमकर गांड मारी. फिर उन दोनों ने सुप्रिया को सीधा लेटा दिया और अपना सारा वीर्य उसके सारे बदन और मुहं में गिरा दिया. अब उन दोनों ने सुप्रिया पर मूत दिया और उसे अपने मूत से नहला दिया. इन सब कामों से सुप्रिया बहुत खुश थी और वो कहने लगी कि आज तुमने मुझे वो सब कुछ दिया जिसके लिए में बहुत दिनों से तड़प रही थी. तुमने मुझे आज इस तरह से चोदकर मेरे जिस्म की आग को ठंडा कर दिया है, लेकिन अब मेरी चूत को तुम्हारा यह लंड हर रोज चाहिए.

फिर उनमे से एक ने कहा कि मेरी रांड अब तो तू जब भी हमे बुलाएगी हम तेरी सेवा करने चले आएगें और तू बिल्कुल भी चिंता मत कर, हम बहुत जल्दी तुझे चोदकर तेरी चूत का भोसड़ा बना देंगे और थोड़ी देर के बाद वो चले गये, लेकिन जाते समय बोले कि इस रविवार को तैयार रहना, हम फिर से तुझे जमकर चोदेंगे.

यह सब होने के बाद सुप्रिया दो दिन तक उसकी जमकर चुदाई होने के कारण ठीक से चल नहीं सकी और अब वो दोनों हमेशा इसे चोदते है और अब उसे गर्भवती भी कर दिया है, मेरी बीवी उनके लंड को कभी अपनी चूत में तो कभी अपनी गांड में तो कभी अपने मुहं में लेकर उनसे अपनी चुदाई के मज़े लेती रहती है. दोस्तों अगर ऊपर वाले ने उसके इसके अलावा भी कोई और छेद दिया होता तो वो उसमें भी उनका लंड डलवाने को तैयार थी और वो अब उनकी छिनाल बन चुकी है और वो उससे जैसा कहते है वो बस वैसा ही करती है. वो उनकी चुदाई से अब बहुत संतुष्ट है और में यह सब हाथ पर हाथ रखकर देखता हूँ, क्योंकि में एकदम लाचार हूँ.

Behen Ki Chudai, bhabhi ki chudai, bhatija, bua, chudai, chudai story, chut ki chudai, Desi Kahani, desi sex story, Hindi Kahani, Hindi Sex, hindi sex kahani, hindi sex kahaniya, Hindi Sex Stories, Hindi Sex Story, Hindi Sexy Kahaniya, hindi sexy story, home sex, http://sexkahani.net/, kamukata.com, Kamukta, kamukta.com, meri chudai, pehli baar, risto me chudai, Sex Jodi, Sex Kahani, sex kahaniya, sex stories in hindi, sex story, sex story hindi, Sex Story in Hindi, sexy hindi story, sexy kahani, sexy kahaniya, sexy kahaniya betio ko choda, sexy stories, sexy story, sexy story in hindi, www.kamukta.com, xxx hindi, xxx kahani, xxx story, xxxhindi, अदला बदली, चुदाई की कहानियाँ, देवर-भाभी, पड़ोसी, भाई बहन चुदाई, रिश्तों में चुदाई, सामूहिक चुदाई ग्रुप सेक्स

Rate This Story