Thursday, 28 April 2016

प्रियंका की चुदाई चंडीगढ़ में

हेलो दोस्तों में हु सेम. में चंडीगढ़ से हु और एक बार फिर से मेरी एक कहानी लेकर आपके सामने आया हु. में स्मार्ट हु और मेरी बोडी अच्छी सेक्सी हे, मेरा लंड ७ इंच का हे और मुझे बड़े बूब और गांड बहोत पसंद हे. ये बात ६ महीने पहले की है. जब में जॉब कर रहा था. एक दिन फेसबुक पे मुझे मेरी एक पुरानी फ्रेंड मिली, जिसका मेरेज हो चूका था. और अब वो दिल्ही में रहती है. उसका नाम प्रियंका था. वो एकदम सुंदर थी, और उसका फिगर ३६-२६-३८ था, और उसकी हाइट ५.४ फुट थी.

में हमेशा से उसे पसंद करता था. और चोदना चाहता था. जब भी उसे देखता हु तो मेरा लंड खड़ा हो जाता था. लेकीन में कभी उसे प्रपोज नही कर पाया.

फेसबुक पर जब मेने उसे देखा तो मेने उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी, और मेसेज किया.

अगले दिन उसका रिप्लाई आया, तो हमने उस दिन नार्मल बाते चेट की. थोड़े दिन तक नार्मल चेट के बाद हम काफी फ्रैंक हो गये. और हमने नंबर एक्स्चेंज कर लिए.

मेने उसे एक रात १२ बजे एक जोक मेसेज किया.

५ मिनिट बाद उसका रिप्लाई आया, तो मेने उसे पूछा की, तुम सोई नही अब तक, तो वो बोली नही, में मूवी देख रही थी.

मेंने पूछा : कौनसी मूवी देख रही हो?

उसने कहा : मैचिंग पॉइंट.

मेंने कहा : यह मूवी तो मुझे भी पसंद हे यार, अपने हस्बैंड के साथ देख रही हो?

उसने कहा : नही सैम, मेरे हस्बैंड तो जर्मनी में हे, में अकेले रहती हु.

मेने कहा : मुझे वह मालूम नहीं था यार.

वह बोली : हा यार में अकेले बोहोत बोर होती हु, ज्यादा फ्रेंड्स भी नही हे मेरे यहा.

मेंने कहा : में आ जाऊ वहा?

वह यह सुन कर हसने लगी और बोली तुम यहा पर आकर क्या करोंगे?

मेंने कहा की तुमसे मिल लूँगा, तुम मुझे दिल्ही घुमा देना.

उसने कहा की तुम्हारा ख्याल कोई बुरा नहीं हे मेरा भी मुड चेंज हो जायेगा और तुम भी दिल्ली घूम लेना ओके, आ जाओ.

अगले दिन मेने जॉब से ३ दिन की छुटी ली. और दिल्ही के निकला. में बहोत उतावला हो रहा था, की में प्रियंका से मिलूँगा. और उसे चोदने का प्लान बनाने लगा.

दिल्ही पहुचकर मेने उसे कॉल किया, तो उसे मुझे अपना एड्रेस बताया. में उसके घर पहुचा. बेल बजाई. और जैसे ही उसने दरवाजा खोला में तो उसे देखता ही रह गया. क्या पटाखा लग रही थी वो.

डीप नेक सूट येलो कलर का पहना था उसने, जिसमे उसके बड़े बूब्स की क्लीवेज साफ दिख रही थी. में तो उसके बूब्स देखने में बिजी हो गया.

उसने कहा, क्या हुआ? कहा खो गये.

मेने कहा कुछ नही.

उसने मुझे अंदर बुलाया, और सोफे पर बेठने को कहा.

में बेठ गया. और हमने २ मिनिट बाते की, फिर उसने मुझे कहा की अभी सिर्फ ९ बजे है. तुम इतनी दूर से आये हो तो, तुम पहले नहां लो, और में ब्रेकफास्ट बना देती हु. और हम शाम को घुमने चलेंगे.

मेने कहा ओके?

में नहाने चला गया. और बाथरूम में मेने उसकी ब्रा ओर पेंटी पड़ी हुई देखी. और में उन्हें सूंघने लगा. और फिर मेरा लंड टाइट हो गया. और में उसके बोबे ओर चूत को याद करके मुठ मारने लगा. थोड़ी देर बाद में नहाकर बहार आया. टॉवेल बांधकर, क्युकी मुझे एयर ड्राई होने की आदत है.

वो मुझे अपने हस्बैंड की शर्ट देने आयी. और मेरी बॉडी देखने लगी. उस वकत में टॉप शेप में था. 4पेक क्लियर एब और मसल वाली बोडी. वो मुझे देखती ही रह गयी.

उसने मेरे पास आकर मुझे शर्ट दी, और कहा, आकर ब्रेकफास्ट कर लो.

में रेडी हुआ. और हम ब्रेकफास्ट करने लगे. ब्रेकफास्ट करते वकत मेने देखा की उसका मंगलसूत्र उसके क्लीवेज में फस रहा था. और किचन की हीट की वजह से उसके ब्रेस्ट पे पसीना आ रहा था.

मेरा उसके वाइट बूब्स देखकर पूरा लंड खड़ा हो गया. क्युकी हम बेड पर बेठ कर खा रहे थे. तो उसने मेरा खड़ा लंड शॉर्ट्स में देख लिया.

ब्रेकफास्ट करने के बाद हम मूवी देखने लगे. और बाते करने लगे.

बातो बातो में मेने उसे बताया की में तुम्हे बहोत पसंद करता था, प्रियंका.

वो बोली, में जानती हु.

मेंने पूछा : कैसे?

वह बोली : तुम मुझे चोरी छुपे देखते जो रहते थे.

मेंने कहा : में हमेशा तुम्हारे बारे में ही सोचता रहता था.

उसने कहा : अब तुम्हारी कोई गर्ल फ्रेंड नही है?

मेंने कहा : नही, में तो तुमको चाहता था. लेकिन तुमने शादी कर ली.

वह बोली : कोई बात नही बेबी, तुमको मुझसे अच्छी मिल जायेगी.

मूवी देखते हुए में उसे बार बार घुर रहा था. और उसने बहोत बार नोटिस किया की, में उसके दूध देख रहा हु.

अब १ बज चुका था. मूवी देखता हुए, और वो बोली, की में लंच बनाने जा रही हु.

मुझसे रहा नही गया. और में उसके पीछे पीछे किचन में चला गया. वो बोली क्या हुआ?

मेने कहा, में अकेले क्या करूंगा? सोचा तुमसे किचन में बाते करूंगा.

उसे एक बॉक्स निकालना था. जो उसकी हाइट से थोडा उपर था. वो चड़ने के लिए कुछ ढूढने लगी. तो मेने पीछे से जाकर उसे उठाया, और बोला अब निकाल लो वो बॉक्स.

जब मेने उसे नीचे उतारा तो मेरे दोनों हाथ उसके ममे पर थे. उर अचानक मेने अपने हाथ उसके बोबे पर रख दिए. वो गभरा गयी. और जोर से बोली, ये क्या कर रहे हो?

में गभरा गया, और मेने कहा सॉरी?

वो बोली, मुझे बताओ तुमने ऐसे क्यू किया?

मेने उसे कहा की तुम नाराज न होना. में तुम्हे बहुत प्रेम करता हु.

वह अपनी आँखे बड़ी कर के बोली रियली?

मेंने कहा की हां, इ लव यू सो मच

उसने कुछ नही कहा, और मेरी आँखों में देखने लगी.

मेने उसे अपनी तरफ खीचा, और उसकी गरदन पर किस करने लगा. और जोर से हग कर लिया.

पहले वो थोडा विरोध करने लगी, लेकिन थोड़ी देर बाद वो एन्जॉय करने लगी.

मेने अपने लिप्स उसके लिप्स पर रख दिए. और जोर जोर से चूसने लगा. उसने भी मुझे जोर से हग कर लिया.

मेने उसका मंगलसूत्र उतारा और उसके बूब्स पे किस करने लगा. उसने अपनी आँखे बंध कर ली. और एन्जॉय कर ने लगी.

मेने उसे अपनी गोद में उठाया, और बेडरूम में ले गया. मेने उसके कपड़े उतार दिए. और उसे पूरा नंगा कर दिया. और अपने कपड़े भी उतार डाले. अब हम दोनों पुरे नंगे थे. मेरा लंड पूरा खड़ा देखकर वो हेरान हो गयी. बोली इतना मोटा?

मेने कहा, हां मेरी जान.

में उसके उपर लेट गया. और हम समुच करने लगे. मेने उसके बगल लिक किया. उसकी नेक पर किस किया. और लव बाईटस किये.

अब मेने उसके बड़े बड़े बूब्स को किस करना शुरू किया. और फिर उसके ब्लैक निप्पल अपने मुह में लेकर चूसने लगा. क्युकी मुझे बूब्स चुसना बहुत पसंद था. मेने उसके बूब्स को करीब ३० मिनिट तक चुसे. उसकी चूत वाइट हो चुकी थी पूरी तरह.

अब उसने मेरा गीला ७ इंच का लंड अपने हाथ में लिया. और मुठ मारने लगी, मेने उसका सिर पकड़ कर अपने लंड की तरफ खीचा, और उसके मुह में अपना लंड दे दिया.

वो उस वेट मोटे लंड को चूसने लगी. और में उसे माउथ फ़क करने लगा. वह इस तरह से मेरा लंड चूस रही थी जैसे की वह बहोत सालो से लंड की बहोत प्यासी हो. अब मेरे मुह से भी आवाज आने लगी थी और वह अह्हो ह अह्ह्ह ओह्ह अह्होप हह ओह्ह अह्ह्ह कर रही थी

करीब १५ मिनिट चूसने के बाद मेरा पानी निकल गया. वह मेरा सारा रस पि गई. मेने उसे लेटाया और टांगे खोली और उसकी पिंक पुसी लिक्क कर ना शुरू किया. बहुत बाद लिक्क करने के बाद मेरा लंड फिर खड़ा हो गया. मेने उसकी चूत में थूका और अपना लंड उसकी फुद्दी में डालना शुरू किया.

बहोत दिनों से ना चोदे होने के कारण उसकी फुद्दी टाइट हो गयी थी. और मेरा लंड अंदर नही जा रहा था. मेने ओर थूका उसकी चूत पे और अपने लंड पे, और इस बार मेरा लंड उसकी चूत में घुस गया, और उसने अपनी आईज बंध कर ली.

में उसे जोर जोर से चोद रहा था और वह आह ओह्ह अहह ओह्ह कर रही थी.

मेने जटके मारने शुरू किये, और उसे खूब चोदा, वो बहुत एन्जॉय कर रही थी. और मुझे कह ररही थी आह आह्ह ओम्म्म्म और जोर से चोदो मुझे आह्ह आम्म मुझे इतना मजा किसी ने नहीं दिया हे. मेरे पति को तो पैसे ज्यादा प्यारे हे और वह तो कितने सालो से बहार जाकर पड़ा हुआ हे.

में तो आज तक आपनी चूत को गाजर और मुली से शांत कर रही थी लेकिन आज तूने मुझे असली मजा दे दिया हे और मुझे बहोत खुश कर दिया हे. में तुम्हे सच्चा प्यार करती हु. उसके शब्द मुझे जोश ला रहे थे और में उसे और जोर जोर से चोदे जा रहा था और उसके मुह से अहः फह अह्हह ओह्ह येस्स आह्ह की आवाज आ रही थी.

उसने मुझे बहोत जकड कर पकड़ रखा था और वह अपनी गांड उठाकर चुदवा रही थी और मुझे जोर से किस भी कर रही थी.

२० मिनिट की चुदाई के बाद हम दोनों जड गये.

और उसको मेने पूरा दिन बहुत चोदा, बाथरूम और किचन में भी चोदा उसे.

Chandigarh sex stories, punjabi sex story, hindi sexy kahani, punjabi antarvasna

Rate This Story