Tuesday, 8 September 2015

बेस्ट फ्रेंड की सिस्टर को चोदा

हेल्लो दोस्तों.. मेरा नाम दिप है. मैं पंजाब का रहने वाला हूँ. मैं डीके का रेगुलर रीडर हूँ, कोई भी लड़की आंटी भाभी पंजाब या चंडीगढ़ संतुष्ट सेक्स करना चाहती हो तो मुझे मेल करे.. आज मैं आपके सामने एक सच्ची कहानी पेश करने जा रहा हूँ उम्मीद है आपको पसंद आएगी. ये एक सच्ची कहानी है जो मेरे दोस्त की बहन और मेरे बीच सेक्स की घटना है.

ये घटना 1 साल पहले की है जब मैं अपनी स्टडी कम्पलीट कर के घर लोटा था. मेरी फॅमिली मैं मम्मी और मेरे पापा है. पेरेंट्स को रिश्तेदार की शादी में जाना था. पेरेंट्स मेरे फ्रेंड्स की बहन को बोल गए की वो मुझे खाना बना दिया करे.. मेरे दोस्त का घर बिलकुल नजदीक था और उनका हमारे घर पर आना जाना लगा रहता था.

तो सोमवार को मेरे पेरेंट्स शादी में चले गए और मेरे दोस्त की बहन प्रीति आई और बोली आपका खाना बना दूँ? मैंने हाँ कह के रूम में चला गया और चेंज करने लगा. फिर में अपना लैपटॉप ले कर गेम्स खेलने लगा तभी प्रीति को किसी का कॉल आया और वो उस से बात करने लगी.

कॉल उसके बॉय फ्रेंड का था जो की उसे मिलने के लिए बुला रहा था और वो बोल रही थी की अभी नहीं आ सकती. तुम सब्र रखो मुझे तो तुम से भी ज्यादा जल्दी है, कितना टाइम हो गया कुछ किया नहीं. मैंने ये बात सुन ली थी. पहले मेरे मन में कोई गलत फीलिंग नहीं थी लेकिन तब मुझे एहसास हुआ के मैं इस के साथ मजे ले सकता हूँ.

ओह्ह सॉरी मैं आपको उसका साइज़ बताना भूल गया 32-28-34. बिलकुल बम लगती थी. उसकी अभी बात चल ही रही थी की मैं किचन में पानी लेने के लिए गया ओह्ह वो मुझे देख के चोंक गयी.

उसे यकीं था के मैंने सब सुन लिया है इसलिए वो जल्दी जल्दी खाना बना कर चली गयी. मैंने खाना खाया और रात को उसके बारे में सोच कर मुट्ठ मारी और प्लान बनाया की कल इस को चोदना है.

अगले दिन जब उसने सुबह आना था तो मैं उसके पहले ही लैपटॉप पर पोर्न मूवी ओं कर के वाशरूम में चला गया. वो आई तो उसने मुझे आवाज लगायी मैं वाशरूम में था वो लैपटॉप देख के चोंक गयी फिर थोड़ी देर खाड़ी हो कर पोर्न देखने लगी और गरम होने लगी.

तभी मैंने वाशरूम का गेट खोला, वो वहां से चली गयी और खाना बना के बिना कुछ बोले चली गयी. मैं डर गया के वो किसी को कुछ बता न दे. खाना खा के दोस्त के घर गया शाम को वापस आया. जब घर आया उसके कुछ समय बाद प्रीति आई और बोली के सुबह तुम क्या देख रहे थे वाशरूम जाने से पहले.

मैं तो डर गया और बोला के कुछ नहीं बस यूँ ही..

वो बोली की तेरे पेरेंट्स को बताना पड़ेगा.

मैंने कहा आप जो कहोगे वो करूँगा लेकिन पेरेंट्स को मत बताना.

वो बोली ठीक है जल्दी अन्दर चलो तुम्हे एक काम करना होगा तब वो सलवार सूट में आई थी. अन्दर जाते ही बोली के तुम्हे मेरी चूत चाटनी होगी.

मेरे मन में लड्डू फूटने लगे तो बस में स्टार्ट हो गया और उसके लिप्स पे लिप्स रख दिए. वो भी साथ दे रही थी 10 मिनट तक मैं लिप्स चूसता रहा.

फिर मैंने उसका कमीज़ उतार दिया और ब्रा भी उतार दी. उस के बूब्स चूसने लगा. वो मौन करने लगी अह्ह्ह अह्ह्ह दीप और चुसो ओह्ह दबाव अह्ह्ह 15 मिनट तक मैं उसके बूब्स चूसता रहा. फिर उसने मुझे धक्का दिया ओह्ह मेरे कपडे उतार दिए. मेरा लुंड जो की 6 इंच का पूरा अकाद चूका था मुह में भर लिया. वो लोलीपोप की तरह चूस रही थी.

तभी में उस से पूछा के बॉय फ्रेंड के साथ कितनी बाद किया है बोली के बॉय फ्रेंड का तो छोटा सा है लंड तो हमारा है आज से साले का फ़ोन ही पिचक नहीं करुँगी. तेरी रंडी बन के रहूंगी और फिर से मुह में ले लिया 15 मिनट तक चूस चूस के लाल कर दिया. मैं झड़ने वाला था और उसके मुह में ही झड गया वो घट घट सारा पी गयी.

तभी हम 69 की पोजीशन में आ गए, मैं उसकी चूत को क्लीन शेव थी को सक करने लगा वो मचलने लगी. मेरा मुह अपनी चूत पे दबाने लगी.

5 मिनट में वो झड गयी मैं चूसता रहा और सारा माल पी गया. वो बोली की अभी रहा नहीं जा रहा फाड़ दो चूत. मैंने लंड पर सेट किया ओह्ह धक्का मारा.. लंड चूत में 2 इंच तक चला गया. एक जोरदार शॉट और मेरा लंड 4 इंच चला गया और उसकी चीख निकल गयी वो रोने लग गयी फिर मैं उसे किस करने लगा.

अगले शॉट में लंड पूरा अन्दर चला गया, अबकी बार उसकी आवाज मुह में ही रह गयी. फिर धीरे धीरे शॉट शुरू किये तो उसे भी मजा आने लगा.

अब वो गांड उठा उठा कर चुदवा रही थी बोल रही थी फ़क मी हार्ड फिर उसे मैंने डॉगी स्टाइल में चोदा. 15 मिनट में वो 2 बार ही. अब मेरा भी होने वाला था वो बोली अन्दर ही झड जाना 20 मिनट में दोनों एक साथ झड गए.

फिर हमने थोड़ी देर वेट किया और मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा इसलिए मैंने उसे हग कर लिया. लंड उसकी चूत से चुभ रहा था तो उसने अपने हाथ से लुंड सेट किया और एक ही झटके में लंड उसकी चूत में समा गया वो उत्तेजित हो गयी मैं शॉट पर शॉट मारता रहा.

वो मौन करती रही अह्ह्ह फ़क मी जान चोद दो चूत को बुझा दो मेरी इस आग को.. मैं उसे चोदता रहा. 10 मिनट बाद वो झड गयी फिर वो मेरा लुंड मुह में लेकर चूसने लगी और 5 मिनट तक चूसती रही फिर वो मेरे ऊपर आ गयी अब वो मुझे चोद रही थी ऊपर नीचे होती रही 15 मिनट बाद मैं झड गया.

ऐसे फिर हमने 4 बार सेक्स किया.

अगले दिन पेरेंट्स घर आ गए और अब हमे जब मौका मिलता है हम सेक्स करते है.

larki ko choda, best friend ki sister ko choda, hindi desi sex antarvasna kahani you must read, mazay dar kahani

Rate This Story